WHAT WE DO​

Welcome to Tiknik

Tiknik एक अच्छे हैल्थकारे और लाइफस्टाइल साथ अपडेट रहने के लिए एक उच्च गुणवत्ता वाला स्वास्त्य संसाधन है।

Tiknik को आम जनता और स्वास्त्य संसाधन के बीच सूचना अंतर को कम करने के उद्देश्य से शुरू किया गया था। क्योँ की समय के साथ, हमने महसूस किया कि सभी को हैल्थकारे और लाइफस्टाइल के बारे में समाचारों से खुद को अपडेट रखना कितना महत्वपूर्ण है।

author

Tiknik की मुख्यः उद्देश्य

टिकनिक एक हिंदी ब्लॉगिंग वेबसाइट है जिसमें स्वास्थ्य देखभाल की जानकारी दी जाती है।

इस ब्लॉग का मूल उद्देश्य स्वास्थ्य और सुंदरता के बारे में जानकारी एकत्र करना और इसे पाठकों तक पहुँचाना है।

सुंदर सावथ के बारे में शोध करने में मेरी हमेशा से रुचि रही है। मेरे द्वारा अब तक ली गई सभी जानकारियों पर यह ब्लॉग बनाया गया है।

मैं इस ब्लॉग के माध्यम से अपने हिंदी पाठकों तक स्वास्थ्य देखभाल की जानकारी पहुंचाना चाहता हूं, ताकि जो लोग हिंदी भाषा में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं, वे लाभान्वित हो सकें।

हम हमेशा यह सुनिश्चित करने का प्रयास करेंगे कि पाठकों तक अधिक से अधिक अच्छी और आकर्षक जानकारी पहुंचे।

अब तक आपने मेरे ब्लॉग के बारे में जान लिया है, आइए जानते हैं कि मैं ब्लॉगर कैसे बना और यह वेबसाइट कैसे बना।

संस्थापक के बारे में (About Founder)

मैं ओडिशा के एक छोटे से गांव Ampor से Biplab Mohanty हूं। मैंने 2016 में अपना ग्रेजुएशन पूरा किया। ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद मैंने कई छोटे-बड़े काम किए।

मैं उस समय काम करता था लेकिन मुझे उस सब काम में अपनी किस्मत नहीं दिखाई दे रही थी, फिर मैंने वह सारा काम छोड़ दिया और एक सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट कोर्स के लिए हैदराबाद चला गया।

कोर्स पूरा होने के 6 से 8 महीने बाद मुझे सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट में नौकरी मिल गई। करीब 1.5 साल बाद मैंने नौकरी छोड़ दी।

अब मैं टिकनिक का संस्थापक हूं और इस ब्लॉग के माध्यम से मैं अपने पाठकों को स्वास्थ्य देखभाल की जानकारी हिंदी में प्रदान करता हूं।

ब्लॉगर कैसे बना ?

मैंने सोचा था कि अगर मुझे सॉफ्टवेयर में नौकरी मिल गई तो मेरी जिंदगी बदल जाएगी, लेकिन मैं गलत था। सॉफ्टवेयर इंजीनियर होने के बावजूद मुझे करीब 12000 रुपये ही मिलते थे।

मेरी नौकरी मुंबई में थी, इसलिए वहां खर्चे ज्यादा होने के कारण मुझे हमेशा खराब आर्थिक स्थिति से गुजरना पड़ता था। इसके अलावा मुझसे ओवरटाइम करने को कहा गया और पैसे भी नहीं दिए गए।

यह ऐसे ही चलता रहा और फिर बारी थी वेतन वृद्धि की। मुझे अब भी याद है कि मेरे अलावा मेरी टीम में सभी को मुझसे ज्यादा इंक्रीमेंट मिला है।

मेरे साथ वालों को भी मुझसे ज्यादा इंक्रीमेंट मिला और जो मेरे जूनियर थे उन्हें भी इंक्रीमेंट ज्यादा मिला।

इसका एक बहुत ही मजेदार कारण था, मेरे और कंपनी के सीईओ के एक दोस्त के बीच झगड़ा हुआ था।

इस तरह के पक्षपात के कारण मैंने ठान लिया था कि अब मैं जो कुछ भी करूंगा अपने दम पर करूंगा, यह नौकरी जैसी चीज मेरे लिए नहीं है।

वैसे भी किसी के आदेश को जबरन स्वीकार करना मुझे अच्छा नहीं लगता था और वह नौकरी करने के साथ-साथ इस बात की तलाश में रहता था कि ऑनलाइन पैसे कैसे कमाए जाएं।

तब मुझे ब्लॉग्गिंग के बारे में पता चला और मैंने नौकरी छोड़कर ब्लॉग्गिंग करने का फैसला किया।

टिकनिक ब्लॉग कैसे बना ?

मेरे नौकरी छोड़ने से पहले ही देश में कोरोना फैल चुका था। फिर मैंने YouTube से Blogging के बारे में सीखना शुरू किया।

थोड़ी बहत सिख जाने के बाद मेने अपना जब छोड़ दिए और फुल टाइम ब्लॉगर बनगया।

Follow me on: